क्या आप म्यूचुअल फंड में SIP के जरिए निवेश करते हैं? अगर हां, तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। साथ ही, अपने पैन और आधार कार्ड को 30 जून तक लिंक करने की सलाह दी जाती है, ताकि आपके म्यूचुअल फंड का एसआईपी बंद हो जाए।

यदि आपका पैन आधार से लिंक नहीं है, तो एसआईपी अमान्य या निष्क्रिय हो जाएगा जिसके कारण आपका केवाईसी अधूरा रहेगा।

सरकार ने पैन-आधार लिंकिंग की तारीख 30 जून, 2021 तय की है। अगर आप दोनों को लिंक नहीं कर सकते हैं, तो आपको इनकम टैक्स एक्ट के तहत 10,000 रुपये का जुर्माना देना होगा।

बीपीएन फिनकैप के निदेशक एके निगम ने ज़ी बिजनेस को बताया, “अगर आपका पैन-आधार सरकार की तय समय सीमा के भीतर लिंक नहीं है, तो आपका पैन अमान्य माना जाएगा। ऐसे में आपके म्यूचुअल फंड का केवाईसी भी अमान्य हो जाएगा। इसलिए जरूरी है कि म्यूचुअल फंड सब्सक्राइबर 30 जून तक पैन को आधार से लिंक करवा लें।

पैन को आधार से लिंक करने का तरीका यहां बताया गया है

चरण 1: इनकम टैक्स की नई वेबसाइट पर जाएं www.incometax.gov.in.

चरण दो: उस पर रजिस्टर करें (यदि पहले से नहीं किया है)। आपका पैन (स्थायी खाता संख्या) आपकी यूजर आईडी होगी।

चरण 3: यूजर आईडी, पासवर्ड और जन्मतिथि डालकर लॉग इन करें।

चरण 4: एक पॉप अप विंडो आएगी, जिसमें आपसे अपने पैन को आधार से लिंक करने के लिए कहा जाएगा। यदि नहीं, तो ‘हमारी सेवाएं’ पर जाएं और ‘आधार लिंक करें’ पर क्लिक करें।

चरण 5: पैन विवरण के अनुसार नाम, जन्म तिथि और लिंग जैसे विवरण का पहले ही उल्लेख किया जाएगा।

लाइव टीवी

#म्यूट

.