31.1 C
New Delhi
Friday, July 12, 2024

Subscribe

Latest Posts

युवाओं को दिल के दौरे पड़ रहे हैं: नारायण मूर्ति के बयान के वायरल होने के बाद डॉक्टरों ने लंबे समय तक काम करने के स्वास्थ्य जोखिमों पर बात की


नई दिल्ली: इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति ने यह सुझाव देकर सोशल मीडिया पर चर्चा छेड़ दी कि भारत के युवाओं को देश की समग्र उत्पादकता बढ़ाने के लिए सप्ताह में 70 घंटे काम करना चाहिए। जहां जेएसडब्ल्यू के अध्यक्ष सज्जन जिंदल जैसी कुछ प्रमुख हस्तियों ने इस विचार का समर्थन किया, वहीं कई अन्य लोगों ने इसे अमानवीय बताते हुए इसकी आलोचना की।

हाल ही में, बेंगलुरु स्थित हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. दीपक कृष्णमूर्ति ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर इस मुद्दे पर अपना दृष्टिकोण साझा किया। उन्होंने किसी व्यक्ति के जीवन और स्वास्थ्य पर ऐसे भीषण काम के घंटों के प्रभाव पर प्रकाश डाला। डॉ. कृष्णमूर्ति ने बताया कि इस तरह के अत्यधिक काम के घंटों से एक पीढ़ी को हृदय संबंधी विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। उन्होंने व्यंग्य करते हुए कहा कि इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि हाल के दिनों में इतने सारे युवाओं को दिल का दौरा क्यों पड़ रहा है

उन्होंने एक औसत पेशेवर के दिन की स्थिति के बारे में बताया जब वे लंबे समय तक काम करते हैं:

एक दिन में 24 घंटे
यदि आप सप्ताह में 6 दिन प्रतिदिन 12 घंटे काम करते हैं, तो आपके पास केवल 12 घंटे ही बचते हैं।
उन 12 घंटों में से आप 8 घंटे सोने के लिए मैनेज कर सकते हैं।
इससे अन्य जरूरी गतिविधियों के लिए सिर्फ 4 घंटे ही बचते हैं।

बेंगलुरु जैसे शहर में, जहां आवागमन का समय अक्सर लंबा होता है, सड़क पर 2 घंटे व्यतीत होते हैं, जिससे व्यक्तिगत स्वच्छता, भोजन और बुनियादी कामों जैसी दैनिक दिनचर्या के लिए केवल 2 घंटे ही बचते हैं। इससे सामाजिक मेलजोल, पारिवारिक बातचीत, व्यायाम या अवकाश गतिविधियों के लिए कोई समय नहीं बचता है। इसके अलावा, कई कंपनियां यह भी उम्मीद करती हैं कि कर्मचारी नियमित कामकाजी घंटों के बाद भी ईमेल और कॉल का जवाब दें।

डॉ. कृष्णमूर्ति की पोस्ट ने ऐसे कठिन कार्य शेड्यूल के साथ आने वाली महत्वपूर्ण चुनौतियों पर प्रकाश डाला, जिसमें मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य पर प्रभाव भी शामिल है। टिप्पणी अनुभाग में, उन्होंने सरकार से बेरोजगारी को कम करने और युवाओं को स्वस्थ कार्य-जीवन संतुलन बनाने में सक्षम बनाने के लिए अधिक रोजगार के अवसर पैदा करने का आह्वान किया।



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss