13.1 C
New Delhi
Monday, March 4, 2024

Subscribe

Latest Posts

इंस्टाग्राम और फेसबुक के लिए हर महीने देने होंगे ₹1665? मेटा की नई प्लानिंग से लग न जाए झटका


हाइलाइट्स

ऐड-फ्री फेसबुक प्लान के लिए प्रति माह कुछ चार्ज देना पड़ सकता है.
अगले महीने से लागू हो सकता है नो-ऐड (SNA) प्लान.
भारत के लिए ऐड-फ्री प्लान को लेकर अभी कोई ऐलान नहीं हुआ है.

Meta Ad free plan: सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी मेटा अपने यूरोपीय यूज़र्स से इंस्टाग्राम और फेसबुक की ऐड-फ्री प्लान के लिए प्रति माह लगभग 14 डॉलर का शुल्क लेना शुरू कर सकती है. ऐड-फ्री प्लान का सीधा मतलब ये है कि जो लोग इस कीमत का भुगतान करेंगे उन्हें फेसबुक और इंस्टाग्राम पर विज्ञापन नहीं देखना पड़ेगा. भारतीय कीमत के हिसाब से 14 डॉलर का मतलब करीब 1,665 रुपये है. वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक मेटा अधिकारियों ने आयरलैंड में गोपनीयता नियामकों, ब्रुसेल्स में डिजिटल प्रतिस्पर्धा नियामकों के साथ-साथ यूरोपीय संघ के गोपनीयता नियामकों के साथ योजना साझा की है.

WSJ की रिपोर्ट में कहा गया है कि मेटा डेस्कटॉप पर फेसबुक या इंस्टाग्राम की मंथली सदस्यता के लिए यूरोपीय यूज़र्स से लगभग 10 यूरो या 10.46 डॉलर चार्ज करने की योजना बना रहा है, जिसमें हर अडिशनल अकाउंट के लिए लगभग 6 यूरो जोड़े जाएंगे.

ये भी पढ़ें- 24 अक्टूबर के बाद इन फोन पर नहीं चलेगा WhatsApp, लिस्ट में चेक कीजिए आपका मोबाइल तो नहीं

इसके अलावा, मोबाइल डिवाइस पर प्लान की कीमत लगभग 13 यूरो प्रति माह हो जाएगी क्योंकि मेटा इन-ऐप भुगतान पर ऐपल और Google के ऐप स्टोर द्वारा लिए जाने वाले कमीशन को शामिल करेगा.

मिलेंगे दो ऑप्शन
मेटा ने रेगुलेटर्स को बताया कि वह आने वाले महीनों में यूरोपीय यूज़र्स के लिए सब्सक्रिप्शन नो-ऐड (SNA) प्लान शुरू करने की योजना बना रहा है, जिससे यूज़र्स को पर्सनलाइज़ विज्ञापनों के साथ फेसबुक और इंस्टाग्राम तक एक्सेस करने या बिना किसी विज्ञापन के सेवाओं के लिए भुगतान करने का ऑप्शन मिलेगा.

ये भी पढ़ें- आधे दाम पर मिल रही हैं फुली ऑटोमैटिक Washing Machine, रगड़ कर नए जैसे हो जाएंगे घर के सारे कपड़े

मेटा प्रवक्ता ने WSJ के हवाले से कहा कि कंपनी मुफ्त सेवाओं में विश्वास करती है जो पर्सनलाइज़ ऐड द्वारा सपोर्टेट हैं लेकिन नियामक आवश्यकताओं को समझने के लिए वह ऑप्शन तलाशने के लिए तैयार हैं. कंपनी इस प्लान को इसलिए पेश करने की तैयारी कर रही है क्योंकि EU ने मेटा को यूजर्स के परमिशन के बिना उन्हें Ads से टारगेट करने से मना किया है, और अगर कंपनी ऐसा करती है तो EU मेटा पर कड़ी कार्यवाही कर सकती है.

मेटा के अनुमान के अनुसार, 2023 की पहली छमाही के दौरान कंपनी के लगभग 258 मिलियन मासिक फेसबुक यूज़र्स और 257 मिलियन इंस्टाग्राम यूज़र्स थे. आखिर में बता दें मेटा ने भारत के लिए इस तरह की योजना के बारे में कोई ऐलान नहीं किया है.

Tags: App, Facebook, Instagram, Tech news

Latest Posts

Subscribe

Don't Miss