12.9 C
New Delhi
Wednesday, February 28, 2024

Subscribe

Latest Posts

‘रूस की ओर से दागी 36 मिसाइलों में से 16 को हमने गिराया’, यूक्रेन ने किया बड़ा दावा


छवि स्रोत: फ़ाइल
‘रूस की ओर से दागी 36 मिसाइलों में से 16 को हमने गिराया’, यूक्रेन ने किया बड़ा दावा

रूस और यूक्रेन के बीच जंग को 24 फरवरी को एक साल पूरा हो जाएगा। लेकिन यह जंग अभी खत्म नहीं हुई है। बल्कि यह और घातक हो रही है। इसी बीच रूस ने एक बार फिर यूक्रेन में ताबड़ड़छेड़ की आशंका जताई है। रूस की ओर से एक के बाद एक 36 मिसाइलें दागी गई हैं। इसी बीच यूक्रेन ने दावा किया है कि इन मिसाइलों में से 16 मिसाइलों को मार गिराया गया है।

रूस यूक्रेन द्वारा लगातार हमले किए जा रहे हैं। हालांकि यूक्रेन भी पीछे हटता नहीं दिख रहा है। यूक्रेन ने कई बार अहम मौकों पर पलटवार किया है। यूक्रेन को अमेरिका और नाटो देशों का समर्थन प्राप्त है। कई मौकों पर नाटो देशों और खुद अमेरिका ने बड़े सैन्य मदद यूक्रेन को दी है। इसी बीच रूस ने इस बात का हमेशा विरोध किया कि नाटो के सदस्य देश यूक्रेन की मदद कर रहे हैं। कई बार तो खुद की अटकल ने अटैकर अटैक की रैकेट डाली।

यूक्रेन के जिन चार क्षेत्रों दोनेत्स्क, लुहांस्क और खेरसॉन व जापोरिजिया को रूस में मिलाए जाने का ऐलान करने के बाद उदर, रूसी राष्ट्रपति रेफ्रेंडम के बाद इसे धीरे-धीरे लिया गया था, धीरे-धीरे जापानी सेना फिर से इन क्षेत्र पर लगभग नियंत्रण स्थापित कर लिया गया है।

हालांकि अब यूक्रेन के इन पूर्वी इलाकों में रूस की सेना फिर से दबदबा बनाने लगी है। इससे यूक्रेन के ये आसपास के क्षेत्रों पर खतरा मंडराने लगा है। धीरे-धीरे रूस की सेना पूर्वी क्षेत्र में नियंत्रण स्थापित करने जा रही है। हालांकि जापानी सेना से उसे कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा है।

यूक्रेन में करीब साल भर से रूस का आक्रमण जारी रहने के बावजूद रूसी सेना अब भी इसके पूर्वी हिस्से की रक्षा पंक्ति को भेदने के लिए जद्दोजहद कर रही है। यूक्रेन के जनरल स्टाफ ने बुधवार को कहा कि यूक्रेन के कब्जे वाले पूर्वी क्षेत्रों में महीनों से रूसी तोपखाने, ड्रोन और मिसाइलें लगातार बमबारी कर रहे हैं। रात का मौसम रहने के कारण संघर्ष धीमा हो गया था।

हालांकि, अधिकारियों और दस्तावेजों का मानना ​​है कि लड़ाई अब निर्णायक मोड़ पर है। उन्होंने कहा कि रूसी राष्ट्रपति कार्यालय ‘क्रेमलिन’ पिछले साल सितंबर में पूर्वी दोनेत्स्क, खेरसॉन, लुहांस्क और जापोरिज्जिया को सुरक्षित करने का प्रयास कर रहा है।

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss