33.1 C
New Delhi
Thursday, May 23, 2024

Subscribe

Latest Posts

पाकिस्तान में फिर से चुनाव को लेकर हुई थी याचिका, कोर्ट ने दिया ये आदेश – इंडिया टीवी हिंदी


छवि स्रोत: एपी
पाकिस्तान का सर्वोच्च न्यायालय।

नाम: पाकिस्तान चुनाव में हुआ धांधली का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया। विपक्ष ने भारी धांधली का आरोप लगाया, विपक्ष ने पाकिस्तान में फिर से चुनाव लड़ने की मांग की थी। मगर सुप्रीम कोर्ट ने आठ फरवरी को आम चुनाव में कथित छात्रों को लेकर नए सिरे से चुनाव लड़ने वाली ''लोकप्रियता हासिल करने का हथकंडा'' के लिए एक याचिका दायर की, जिसे रविवार को खारिज कर दिया गया। सुप्रीम कोर्ट ने कोर्ट के समसामयिक पेश न होने को लेकर पूर्व सैन्य अधिकारी और वेतन पर जुर्माना भी लगाया।

बता दें कि रिटायर ब्रिगेडियर अली खान ने पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट से ''निष्पक्षता, प्लास्टिक और सामान की गारंटी'' करने के लिए 30 दिनों के लिए नए चुनाव के आदेश की पेशकश की थी। उन्होंने इस मामले में नई सरकार के गठन पर रोक लगाने का आदेश देने तक की मांग की थी। हालाँकि, ऑर्गेनिक्स कॉन्स्टेंसी की दो बार सुनवाई पेशी के दौरान नहीं हुई। इसके बाद पाकिस्तान के प्रधान न्यायाधीश काजी फ़ैज़ इसा, ग्रांट मोहम्मद अली मज़हर और ग्रांट मुसरत हिलाली की पीठ ने 5,00,000 रुपये का स्टॉक रखा।

कोर्ट ने खारिज की अर्जी खारिज कर दी

पहले अदालत को सूचित किया गया था कि अली पूर्व ब्रिगेडियर जिन पर 2012 में अदालत में मार्शल की कार्रवाई की गई थी और उन्हें सेवा से हटा दिया गया था। प्रधान न्यायाधीश ने शीर्ष अदालत को एक ईमेल भेजा जिसमें उन्होंने कहा कि वह विदेश में हैं और अपनी याचिका वापस लेना चाहते हैं। प्रधान न्यायाधीश इसा ने 'लोकप्रियता हासिल करने का हथकंडा' पद पर नियुक्ति को खारिज कर दिया। वहीं पाकिस्तान में एलएन और पीपीएल गठबंधन सरकार बनाने पर सहमति बनने का दावा किया गया है। इस गठबंधन में शहबाज शरीफ फिर से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बन सकते हैं। (भाषा)

यह भी पढ़ें

इजरायली सेना ने सीरिया के आवासीय इलाके में घातक हवाई हमला किया, जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई

युद्धग्रस्त फ़िलिस्तीनियों पर एक और बड़ी आफत, उत्तरी गाजा में इस कारण से आई अंतिम संस्कार की नौबत

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss