31.1 C
New Delhi
Sunday, July 21, 2024

Subscribe

Latest Posts

इजराइली यात्रियों के आगमन पर ही रूसी हवाई अड्डा जंग का मैदान बना, यहूदियों का विरोध


छवि स्रोत: एपी
रूसी हवाई अड्डे पर निवेशक।

हमास के हमलों के जवाब के लिए गाजा पट्टी पर रूस के भीषण हवाई हमले जारी हैं। इससे गाजा में रह रहे फिलिस्तीनियों की जिंदगी नरक बन गई है। इजरायली हमलों और फिलिस्तीनियों के खिलाफ समर्थन में दुनिया के कई देश प्रदर्शन कर रहे हैं। रूस भी इससे संतुष्ट नहीं है। रूस के दागिस्तान क्षेत्र में मुख्य हवाई अड्डे पर रविवार को सैकड़ों लोगों ने इजरायल के तेल अवेव से यात्रियों के प्रवेश के स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किया और यहूदियों ने विरोधी नारे लगाए। रूसी समाचार शोबिद ने यह जानकारी दी।

रूसी मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार, भीड़ ने रूसी विमान ‘रेड विंग्स’ के विमान को घेर लिया। अधिकारियों ने मख्ख्ला में स्थित हवाई अड्डे को बंद कर दिया और वहां बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया। मखखला मुख्य रूप से मुस्लिम बहुल क्षेत्र दागिस्तान की राजधानी है। दागिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस घटना में 20 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, जिनमें से दो की हालत गंभीर है। मंत्रालय ने बताया कि जुलूस में पुलिस अधिकारी और आम नागरिक शामिल हैं। सोशल मीडिया पर प्रसारित वीडियो में भीड़ में कुछ लोग फलस्टीन के झंडे लहरा रहे थे और अन्य ने पुलिस की एक कार को पलटने की कोशिश की। वीडियो में यहूदी विरोधी नारियों के बारे में भी सुना जा सकता था और कुछ लोगों के यात्रियों के पासपोर्ट की जांच की जा रही थी, जिसमें स्पष्ट तौर पर इजराइल से आए लोगों की पहचान का प्रयास किया गया था।

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के कार्यालय ने रविवार रात एक बयान में कहा कि इजराइल ”उम्मीद करता है कि रूस के अधिकारी सभी इजराइली नागरिकों और युवाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे और वे कहीं भी रहेंगे, रूसी अधिकारी इन दंगाइयों और युवाओं एवं इजराइलियों के उकसावे की किसी भी घटना के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।” नेतन्याहू के कार्यालय ने कहा कि इजराइल के राजदूत रूस इजराइलियों और यहूदियों की सुरक्षा के लिए रूस के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

फिलिस्तीनियों के समर्थन में उतरे लोग

रूस के ‘नॉर्थ कोकेशियन नेशनल यूनिवर्सिटी’ के आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने कहा कि हवाई अड्डे पर प्रदर्शन करने वालों की पहचान की जाएगी और इसके लिए जिम्मेदार लोगों को न्याय के कठघरे में लाया जाएगा। दागिस्तान भी मंत्रालय के अधिकार क्षेत्र में शामिल है। गाजा में फलस्तीनी नागरिकों का समर्थन करते हुए क्षेत्रीय दागेस्तानी सरकार ने जनता से शांति बनाए रखने और इस तरह के प्रदर्शन में शामिल न होने की अपील की। दागिस्तान के सर्वोच्च स्वतंत्र शेख अहमद अफंदी ने क्षेत्र से हवाई अड्डे पर बमबारी नहीं की। दागिस्तान के गवर्नर सर्गेई मेलिकोव ने हिंसा में किसी भी व्यक्ति को मार डालने की चेतावनी दी। (पी)

यह भी पढ़ें

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss