40.1 C
New Delhi
Thursday, May 30, 2024

Subscribe

Latest Posts

इंडोनेशिया में सक्रिय हुआ रुआंग स्कॉलर, रह-रहकर हो रहा है विस्फोट – इंडिया टीवी हिंदी


छवि स्रोत: रॉयटर्स
इंडोनेशिया जल्वामुखी विस्फोट (फोटो)

इंडोनेशिया में एक बार फिर से राक्षस आग उगल रहा है। इस बार रुआंग के वैज्ञानिक सक्रिय नजर आ रहे हैं। उद्यमियों में हो रही साझेदारी के टिकाऊ कदम भी बढ़ते जा रहे हैं। इसी क्रम में इंडोनेशिया के उत्तरी सुलावेसी प्रांत में रुआंग स्कॉटलैंड में हो रहे विस्फोटों के बाद कम से कम 800 लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाया गया है। विद्वानों की वजह से पिछले कई दिनों से आसमान में लावा और राख के बादल छाए हुए हैं। प्रांतीय राजधानी मानदो से लगभग 100 किमी (62 मील) दूर रुआंग द्वीप पर स्थित मंगलवार के बाद से अब तक तीन से अधिक बार वसा चुकाई गई है।

चेतावनी स्तर को स्केल किया गया

विरोधियों पर नजर रखने वाले मालदीव के एक अधिकारी हेरुनिंगत्यास देसी फुलमासारी ने रायटर्स को बताया कि अधिकारियों ने ब्लूटूथ आंदोलन के बाद दूसरे सरकार स्तर तक चेतावनी स्तर को बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा, माउंट रुआंग के विस्फोट द्वीप पर हाल ही में भूकंप का कारण बना था, जिसमें पहाड़ से 1.8 किमी (1.1 मील) की जमीन पर ज्वालामुखी तक खतरनाक और “विस्फोटक हॉट क्लाउड” नजर आ रहे थे। उन्होंने कहा, “द्वीप के लोग बाहर घूमेंगे और विस्फोट भी हो सकते हैं। क्रेटर से चार किलोमीटर के अंदर किसी भी गतिविधि की गहराई से जानकारी नहीं दी गई है।” उन्होंने कहा, रुआंग द्वीप लगभग 838 निवासियों का घर है, जिनमें से अधिकांश को अब प्लास्टर द्वीप टैगुलानडांग में ले जाया गया है।

बना हुआ है लावा का प्रवाह

रॉयटर्स की ओर से देखे गए फुटेज में देखा जा रहा है कि पहाड़ के नीचे से लावा की धारा लगातार बनी हुई है रॉयटर्स के क्रेटर के ऊपर भूरे राख के बादल उभरते हुए दिखाई दे रहे हैं। देखने वाली बात यह भी है कि इंडोनेशिया “पेसिफिक रिंग ऑफ फायर” में प्रदर्शित हुई है, जो उच्च भूकंपीय घटना का एक क्षेत्र है। इस क्षेत्र के ऊपर कई टेक्टोनिक सतहें स्थित हैं। इससे पहले साल 2023 के दिसंबर महीने में मरापी आर्किटेक्चर में विस्फोट हुआ था जिसमें 11 पर्वतारोहियों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें:

इजराइल पर हमले के बाद अमेरिका की नई चाल से टूटेगी ईरान की कमर, होगा भयंकर नुकसान

वीडियो: भारी बारिश के बाद बने रेगिस्तानी शहर के संकट, दुबई में हर तरफ पानी ही पानी

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss