पीएमओ ने बताया कि COVID-19 फ्रंट-लाइन वर्कर्स को और लैस करने के लिए, पीएम नरेंद्र मोदी 18 जून को सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम फॉर COVID-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स’ लॉन्च करेंगे। 26 राज्यों में फैले 111 प्रशिक्षण केंद्रों में कार्यक्रम का क्रियान्वयन देखा जाएगा।

शुभारंभ के बाद प्रधानमंत्री का संबोधन होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मौके पर केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री भी मौजूद रहेंगे।

कार्यक्रम का उद्देश्य देश भर में एक लाख से अधिक COVID योद्धाओं को कौशल और कौशल प्रदान करना है। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि COVID योद्धाओं को छह अनुकूलित नौकरी भूमिकाओं में प्रशिक्षण दिया जाएगा, जैसे कि होम केयर सपोर्ट, बेसिक केयर सपोर्ट, एडवांस केयर सपोर्ट, इमरजेंसी केयर सपोर्ट, सैंपल कलेक्शन सपोर्ट और मेडिकल इक्विपमेंट सपोर्ट।

इस कार्यक्रम को प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना 3.0 के केंद्रीय घटक के तहत एक विशेष कार्यक्रम के रूप में तैयार किया गया है, जिसमें कुल 276 करोड़ रुपये का वित्तीय परिव्यय है। कार्यक्रम स्वास्थ्य क्षेत्र में जनशक्ति की वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए कुशल गैर-चिकित्सा स्वास्थ्य कर्मियों का निर्माण करेगा।

लाइव टीवी

.