25.1 C
New Delhi
Wednesday, April 17, 2024

Subscribe

Latest Posts

उत्तर प्रदेश के विधानसभा में अब मोबाइल लेकर नहीं जा पाएंगे विधायक


छवि स्रोत: पीटीआई
यूपी विधानसभा के सत्र के दौरान उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष अभिषेक महाना पर कार्रवाई की गई

घर से आए दिन कई नेताओं के मोबाइल वाले वीडियो सामने आते रहते हैं और ये अक्सर मौत का कारण भी बने रहते हैं। योगी सरकार ने अब यूपी की विधानसभाओं में बदलाव किया है, जिसके बाद विधानसभा के सत्र के दौरान विधायकों के अंदर मोबाइल फोन नहीं ले जा सकेंगे। खबर है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र 28 नवंबर से शुरू होगा और यह सत्र नए सिरे से आयोजित किया जाएगा। विपक्ष के सदस्यों के अंतर्गत अब सदस्यों को मोबाइल फोन लेने की अनुमति नहीं होगी।

66 साल बाद बदले यूपी विधानसभा के नियम

उत्तर प्रदेश विधानसभा के नए भवन में कुछ ऐसे भी बदलाव किए गए हैं, जिसमें महिला सदस्यों को खास स्वाद दिया जाएगा, ताकि वह अपनी बात रख सकें। इस शीतकालीन सत्र की शुरुआत 28 नवंबर से होगी और 1 दिसंबर तक चलने की संभावना है। यहां शनिवार को जारी एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई। बयान में कहा गया है कि 66 साल बाद योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में विधानसभा सत्र नए सिरे से आयोजित किया जाएगा। पिछले सत्र में ही बदलावों को अंतिम बैठक के बाद अब इस सत्र से लागू किया जाएगा।

अब सत्र के दौरान झंडे और झंडों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है

उत्तर प्रदेश विधानसभा के अंतर्गत अब विधानसभा सदस्यों को मोबाइल फोन लेने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा सत्र के दौरान सदन में झंडे और बैनर ले जाने पर भी प्रतिबंध लगाया जाएगा। बयान में यह भी कहा गया कि सत्र के दौरान महिला सदस्यों को खाना खिलाया जाएगा ताकि वह अपनी बात रखें। विधानसभा के प्रमुख सचिव दिपदीर कुमार दुबे ने विधानसभा के लिए शीतकालीन सत्र की अधिसूचना जारी कर दी है। वर्तमान में जारी अधिसूचना और मंगलवार से शुरू हो रही है यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सदनों के अनुसार भूतपूर्व सदस्यों के निधन पर शोक व्यक्त किया जाएगा।

इस शीतकालीन सत्र में होगा ये काम

वहीं 29 नवंबर को प्रथम प्रहर में सदनों में अभिनय कार्य, जिसमें पद, अधिसूचनाएं, वर्गीय आदि को सदनों के पटल पर रखा जाएगा। साथ में ही होगा पटाखों का पुर:स्थापन कार्य। दिनांक 12:30 के बाद वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए अनुपूरक ग्रांट्स की अंतिम तिथि को प्रस्तुत करने के साथ अन्य कार्य अवश्य करें। सत्रह के तीसरे दिन 30 नवंबर को वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए अनुपूरक अनुदान पर चर्चा होगी। सदस्यों की सहमति पर विचार और मतदान होगा। इसके अलावा अन्य कार्य भी किये जायेंगे। एक दिसंबर को भी जुड़ेंगे काम.

ये भी पढ़ें-

राजस्थान में 69 प्रतिशत से अधिक वोट पड़े, कई वोट पड़े और हिंसा हुई

आप की अदालत में मंत्री हरदीप पुरी बोले- राहुल गांधी को ‘गधा’ कभी नहीं कहा, लेकिन दुनिया में 3 तरह के मूर्ख…



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss