30.1 C
New Delhi
Thursday, June 20, 2024

Subscribe

Latest Posts

आईटीबीपी प्रशिक्षण: युवाओं को भर्ती के लिए तैयार करने में जुटी आईटीबीपी, 60 दिन का दिया जा रहा विशेष प्रशिक्षण


हाँ। अग्निवीर भारती के लिए आईटीबीपी प्रशिक्षण: युवाओं को भर्ती के लिए तैयार कर रही आईटीबीपी की 47वी वाहिनी की ओर से सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले युवाओं को विशेष प्रशिक्षण दिए जा रहे हैं। ताकि ये युवा, सेना का युवा बनकर देश सेवा में सक्षम हो और सीमाओं की रक्षा कर सके। युवा भी बड़े उत्साह और जोश के साथ सेना का जवान बनने के लिए और प्रशिक्षण हासिल करने के लिए आइटीबीपी द्वारा आयोजित किए जा रहे नि:शुल्क शिविरों में पहुंच रहे हैं। भारत-पाकिस्तान सीमा के साथ घूमने वाले इलाकों में रहने वाले युवा आईटीबीपी के इस परीक्षण का दिल से स्वागत कर रहे हैं। उनमें से देश के लिए कुछ करने का जज्बा है।

चंद लोगों ने देश के युवाओं को कहा, लेकिन सीमा पर रहने वाले युवा इन दिनों आईटीबीपी की 47वी वाहिनी के चयन से प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं। अग्निपथ भर्ती योजना को लेकर जहां कुछ लोगों की ओर से जोरदार विरोध किया गया, वहीं जम्मू कश्मीर के युवा जो भारत-पाकिस्तान नियंत्रण रेखा के पास रहते हैं, उनमें से अग्निवीर बनने को लेकर जबरदस्त जोश दिख रहा है।

सांबा में दिया जा रहा है
नौजवानों को सेना का उभरना बनने के लिए एआईबीपी की 47वी वाहिनी की ओर से सांबा जिले के प्रस्तुति घगवाल के रेई में वाहिनी के मुख्यालय में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। वही सांबा जिले के युवाओं को सेना में भर्ती होने के लिए बुधवार से प्रशिक्षण शुरू की गई है। जम्मू के सांबा जिले में शुरू हुई इस ट्रेनिंग में 60 से 70 के करीब युवा शामिल हैं और युवाओं में धब्बे जा रहे हैं। यह प्रशिक्षण 60 दिनों तक चलेगा। इस दौरान नौकरी को शारीरिक प्रशिक्षण दिया जाएगा। नि:शुल्क प्रशिक्षण के बाद ये युवा आने वाले भर्ती रैली में शामिल हो सकते हैं।

ऐसी होती है ट्रेनिंग
इस प्रशिक्षण में आइटीबीपी के कमांडेंट सुभाष यादव ने युवाओं को भर्ती योजना से संबंधित घुसपैठियों को दूर करते हुए देश की सेवा करने के लिए प्रेरित किया और सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। युवाओं को बताया गया कि आइटीबीपी की तरफ से जो भर्ती परीक्षा दी जा रही है वह सुनहरे भविष्य को बनाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि वाहिनी के हेडक्वार्टर के पास युवाओं को 5 किलोमीटर प्रतिदिन दौड़ लगवाते हैं, साथ में उन्हें एक्सरसाइज करवाई जाती है, जिसमें उन्हें जानकारियां दी जाती हैं कि आप अपनी शारीरिक तौर पर फिट कैसे रखते हैं। बाद में उन्होंने लॉन्ग जंप, पुशअप, और कई फेल की ट्रेनिंग दी।

लिखित परीक्षा की तैयारी भी कराई जा रही है
आइबीपी की ओर से इन नौजवानों को विशेष लिखित परीक्षा की तैयारी भी कराई जा रही है, जिसमें उन्हें सिखाया जा रहा है कि फिजिकल के साथ-साथ लिखित में क्या तैयारी की जाती है। आइबीपी के अधिकारी युवाओं को देश के लिए कुछ बनने पर सभी योजनाओं के बारे में जागरूक भी कर रहे हैं। युवा ने इस प्रशिक्षण में अपनी प्रतिभा को दिखाया है और देश की सेवा करने का प्रण किया है।

देश की सेवा करना लक्ष्य है
प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं युवा अभिषेक शर्मा, साहिल कुमार, अक्षित पंगोत्रा, पंकज शर्मा व अन्य ने बताया कि हम बचपन से आतंकवाद और पाकिस्तान की गोलाबारी देखते आ रहे हैं। सुरक्षा बल उन्हें मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं। आइटीबीपी भर्ती का नि:शुल्क परीक्षण दे रही है। हमारे लिए यह सुनहरे अवसर है कि हम सेना में देश की सेवा करें। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि ऐसी सुरक्षा बल सीमा की सुरक्षा में कायम है और दुश्मन के हर नापाक मंसूबे को नाकाम करता है, हम भी उसी तरह से दुश्मन को मुंह तोड़ जवाब देते हैं।

ये भी पढ़ें-
SSC GD कांस्टेबल भर्ती 2022-23: जीडी कांस्‍टेबल भर्ती में बड़ा बदलाव, ऐसी महिलाओं की नियुक्ति पर टिके रहने के लिए रोक
सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2023: वृद्धावस्था बोर्ड के छात्र ध्यान दें, यहां देखें महत्वपूर्ण जानकारी, नहीं तो हो सकता है बड़ा नुकसान

टैग: अग्निवीर, सरकारी नौकरियों, आई टी बी पी, जम्मू

Latest Posts

Subscribe

Don't Miss