यदि आप मानसून में शादी की योजना बना रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप कुछ बातों का ध्यान रखें यदि आप पूरी तरह से आनंद लेना चाहते हैं और दुर्घटनाओं से बचना चाहते हैं। सबसे पहले अगर आपको मानसून में शादी का आयोजन करना है तो सही जगह का चुनाव करना जरूरी है। चाहे आपका स्थल खुला आसमान हो या घर के अंदर, आप नहीं चाहते कि आपके मेहमान भीग जाएं। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि आप स्थल का चयन बहुत सावधानी से करें।

दूसरी बात यह सुनिश्चित करें कि शादी में मेहमानों के लिए तैयार किया गया खाना हमेशा ढक कर रखा जाए। अन्यथा आप भोजन को बारिश में उजागर करने का जोखिम उठा सकते हैं। शाकाहारी व्यंजनों के मामले में आपको टमाटर, खीरा, बीन, मूली आदि जैसी सब्जियां चुननी चाहिए जो बरसात के मौसम में उगती हैं। दूसरे, आपको स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए खाना पकाने के लिए एक साफ जगह का चयन करना चाहिए।

जहां सजावट की बात हो तो इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि सजावट में भारी सामान का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। नहीं तो मानसून के दौरान चलने वाली तेज हवाएं उन्हें मेहमानों पर गिरा सकती हैं और उन्हें चोट पहुंचा सकती हैं।

यदि आप मानसून में शादी कर रहे हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप आरामदायक कपड़े चुनें। ऐसे जूते पहनने की भी सलाह दी जाती है जो आरामदायक हों और जिनमें बेहतर पकड़ के साथ अच्छी पैडिंग हो। यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि गीली, कीचड़ वाली जमीन पर चलते समय आप फिसलें और गिरें नहीं। इस मौसम में हैवी ज्वैलरी पहनने से त्वचा में जलन हो सकती है, इसलिए इससे बचना ही बेहतर है।

अत्यधिक नमी से निपटने के लिए मानसून की शादी के दौरान वाटरप्रूफ मेकअप पहनना सबसे अच्छा है। हल्के मेकअप का उपयोग करने से आपको ताजा, जवां दिखने के साथ-साथ किसी भी तरह की गड़बड़ी से बचने में मदद मिलेगी।

सभी नवीनतम समाचार, ब्रेकिंग न्यूज और कोरोनावायरस समाचार यहां पढ़ें

.