35.1 C
New Delhi
Thursday, May 30, 2024

Subscribe

Latest Posts

साल 2024 में जीता डोनाल्ड नामांकन तो कौन होगा अमेरिका का हीरो, आया ये नाम – इंडिया टीवी हिंदी


छवि स्रोत: एपी
डोनल्ड किटल, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति।

वाशिंगटनः अमेरिका में नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में कौन जीतेगा और आखिरी दौर में इसके लिए होने वाली प्रतियोगिता में क्या कहा जाएगा और क्या कहा जाएगा या किसी और के बीच, यह बात ठीक ही अभी तक स्पष्ट नहीं हुई है, लेकिन इसके लिए एक नाम सामने आया है ।। अगर डोनाल्ड एरियल इस चुनाव में जीत दर्ज करते हैं तो वह भारतीय मूल के विवेक रामास्वामी को उम्मीदवार बना सकते हैं। इस बात की चर्चा जोरों पर है। हालांकि इससे पहले रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने के लिए विवेक रामास्वामी भी एक दौर में शामिल हुए थे, मगर चुनाव के पहले चरण से ही पहले उन्होंने खुद को इस मुकाबले से अलग कर लिया और अपने समर्थन का खुलासा कर दिया।

2024 के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए अपने-अपने सहयोगी के रूप में विचार कर रहे हैं। पोलिटिको डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार, फॉक्स न्यूज 'टाउन हॉल' कार्यक्रम के दौरान मेजबानों ने अपनी पसंद के छह तीन साल के बारे में सवाल पूछे। इस पर रियल ने साउथ कैरोलिना के सीनेटर टिम स्कॉट, फ्लोरिडा के गवर्नर रॉन डेसेंटिस, हवाई के पूर्व सांसद तुलसी गेबार्ड, विवेक रामास्वामी, फ्लोरिडा के प्रतिनिधि बायरन डोनाल्ड्स और साउथ डकोटा के गवर्नर क्रिस्टी नोएम का नाम लिया।

निक्की हेली का नहीं लिया नाम

राहुल (77) ने एक अन्य भारतीय-अमेरिकी निक्की हेली का नाम नहीं लिया जो अभी भी रिपब्लिकन पार्टी की ओर से प्रमुख प्रतियोगी हैं और रेस में हैं। वहीं रामास्वामी (38) जनवरी के बीच में आयोवा कॉकस में अपने खराब प्रदर्शन के बाद न केवल रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में पीछे हट गए थे, बल्कि इसके विजेता का समर्थन भी उन्होंने किया था। फॉक्स न्यूज टाउन हॉल इवेंट के होस्ट लौरा इंग्राहम ने जब उनसे पूछा, “आपकी सभी सूची क्या हैं?” यथार्थ ने कहा, ''वे सभी सूची में हैं। सत्यता से कहूँ तो वे सभी लोग अच्छे हैं। वे सभी अच्छे और मजबूत हैं।'' रामास्वामी ने इससे पहले अगस्त 2023 में रिपब्लिकन नॉमिनेशन नहीं होने की वजह से सूरत में साहिल के साथ रेस में शामिल होने का संकेत दिया था। (भाषा)

यह भी पढ़ें

पाकिस्तान में फिर से चुनाव की मांग को लेकर दस्तावेज तैयार किया गया, सर्वोच्च न्यायालय ने यह आदेश दिया

उत्तरी गाजा में युद्धग्रस्त फिलीस्तीनियों की एक और बड़ी आफत, इस वजह से आई अंतिम संस्कार की नौबत

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss