35.1 C
New Delhi
Sunday, April 21, 2024

Subscribe

Latest Posts

“हर दिन बीजेपी से लड़ता हूं, मेरे खिलाफ 24 केस हैं”, तेलंगाना में बोले राहुल गांधी


छवि स्रोत: फ़ाइल फ़ोटो
राहुल गांधी

तेलंगाना में 30 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए सभी पार्टियों के लिए एक ही चरण में वोट डालेंगे। वह पहली बार जीत दर्ज करने को लेकर सभी दल जोर अजमाइश कर रहे हैं। एलएलसी के प्रमुख कॉन्स्टिस्ट चिकित्सकों को चिन्हित किया जा रहा है। कांग्रेस के स्टार प्रचारक भी कॉन्स्टेबल्स रैलियाँ कर रहे हैं। इस बीच, तेलंगाना के संगारेड्डी जिले के आंदोला में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी ने भाजपा के साथ चुनावी रैली निकाली।

राहुल गांधी ने बताया लक्ष्य

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं. चन्द्रशेखर राव तेलंगाना में सत्ता में बने रहें। बीजेपी और बीजेपी के बीच गुप्त साझेदारी का आरोप लगाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस का पहला लक्ष्य तेलंगाना में केसीआर को हराना है और फिर केंद्र से मोदी सरकार को हराना है। राहुल गांधी पार्टी के पूर्व उम्मीदवार दामोदर राजनरसिम्हा के प्रचार के लिए एंडले में एक रैली को पेश कर रहे थे। मासूम कांग्रेस ने आरोप लगाया कि बीजेपी, बीआरएस और एआईएमआईएम एक साथ हैं और कांग्रेस इन सभी से लड़ रही है।

माइक्रोसॉफ्ट-नोटबैंक-कृषि बिलों का समर्थन

उन्होंने दावा किया कि बी कॉमर्स ने मोदी सरकार का समर्थन करते हुए सीमेंट, डेमोक्रेट और कृषि बिलों का समर्थन किया है। उन्होंने कहा, ”चुंकी मैं हर दिन बीजेपी से लड़ता हूं, मेरे खिलाफ 24 मामले हैं, लेकिन ईडी, सीबीआई या आईटी के खिलाफ एक भी मामला नहीं है.” राहुल गांधी ने कहा एआईएमआईएम पर में कहा गया है कि जहां भी कांग्रेस बीजेपी लड़ रही है, वहां वह बीजेपी की मदद के लिए अपने उम्मीदवार खड़ा करती है। हैदराबाद में शनिवार रात को बेरोजगार युवाओं के साथ अपनी मुलाकात का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि केसीआर सरकार ने टीएसपीएससी परीक्षा में पेपर लाइक के जरिए उनका भविष्य बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा, ”मुझे बताया गया था कि उन्होंने तैयारी के लिए खर्च किए गए पैसे और कड़ी मेहनत की परीक्षा ली थी, लेकिन पेपर लाइक ने उनके सारे सपने चकनाचूर कर दिए।”

‘दोराला सरकार’ और ‘प्रजला सरकार’ के बीच लड़ाई

नेता कांग्रेस राहुल गांधी 30 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में ‘दोराला सरकार’ और ‘प्रजला सरकार’ के बीच लड़ाई के बारे में बताया गया। उन्होंने वादा किया कि अगर कांग्रेस सत्ता में आ गयी तो जनता का शासन चलेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि केसी सरकार पूरे देश में सबसे बेकार है। उन्होंने कहा, “तेलंगाना के अलग राज्य के लिए पूर्वी समय के लोगों ने एक ऐसी सरकार का सपना देखा था जो गरीब, गरीब, किसान और गरीब दोस्त काम करते थे, लेकिन उन्हें एहसास हुआ कि एक परिवार उन पर शासन कर रहा है।” उन्होंने लोगों को केसीआर में शामिल कर लिया और उनके परिवार ने कांग्रेस में छह गुनाह लागू कर लोगों को बाहर निकाल दिया।



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss