27.9 C
New Delhi
Wednesday, April 17, 2024

Subscribe

Latest Posts

भाजपा कार्यकर्ता सना खान की कैसे हुई थी हत्या? पुलिस ने बताई पूरी कहानी


Image Source : FILE PHOTO
सना खान और आरोपी अमित साहू

मध्य प्रदेश के जबलपुर से लापता हुई नागपुर की भारतीय जनता पार्टी की महिला कार्यकर्ता सना खान की हत्या कर दी गई थी। सना की हत्या उसके बिजनेस पार्टनर अमित साहू ने की थी। अमित साहू ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। इस मामले का अब पूरा खुलासा हो गया है। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की नेता सना खान की हत्या मामले में पुलिस ने अमित साहू उर्फ पप्पू को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस मामले में नौकर जितेंद्र गौड़ को भी गिरफ्तार किया है। साथ ही पुलिस एक अन्य आरोपी की तलाश में जुटी हुई है। 

लाखों रुपये के लेनदेन में हुई थी हत्या

बता दें कि लाखों रुपये के लेन देन के कारण यह विवाद खड़ा हुआ, जिसके बाद लाठी से पीट-पीटकर सना की हत्या कर दी गई थी। सना के प्रेमी अमित साहू ने इस बात को कबूल लिया है। अमित ने पुलिस को बताया कि उसने सना की हत्या कर शव को हिरन नदी में फेंक दिया। सना की मां के मुताबिक अमित मध्य प्रदेश के एक राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखता है। अमित पर शराब तस्करी समेत अन्य मामले दर्ज हैं। अमित और सना बिजनेस पार्टनर थे। सना की मां ने बताया, 1 अगस्त की रात नागपुर से बस लेकर उनकी बेटी निकली और 2 अगस्त को जबलपुर स्थित अमित के आवास पर पहुंची। यहां दोनों के बीच विवाद हुआ। इस विवाद के बाद अमित ने सना की हत्या कर दी।’

परिजनों ने की ये मांग

सना की मां ने बताया कि सना का फोन लंबे समय तक स्विच ऑफ था। इस कारण 3 अगस्त को उन्होंने मनकापुर थाने में सना के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। सना की मां ने कहा, ‘मुझे पता था कि सना ने अमित से अच्छी खासी मोटी रकम ली है। साथ ही अमित ने कुछ सोने के आभूषण भी सना को दिए थे। सोने के आभूषण और पैसे को लेकर उन दोनों के बीच विवाद हुआ था।’ सना खान के परिजनों की मांग है कि मामला फास्ट ट्रैक में चलाया जाए। उन्होंने आरोपी की फांसी की मांग की है। 

गैरकानूनी काम करता था आरोपी

सना की मां ने कहा कि अमित साहू ने जनवरी में उनसे मुलाकात की थी। सना से शादी को लेकर अमित ने बात की थी। इस दौरान सना की मां ने शादी से साफ इनकार कर दिया। दरअसल सना का एख 13 साल का बेटा है, जो 8वीं कक्षा में पढ़ता है। घरवालों ने अमित को सलाह दी कि दोनों दोस्त की तरह रहें। परिवार उन्हें शादी करने की इजाजत नहीं देगा। लेकिन इन दिनों उनकी शादी का एक प्रमाणपत्र मीडिया के हाथ लगा है। दोनों के परिजनों को इस शादी को कोई जानकारी नहीं थी। सना के परिजनों ने बताया कि अमित साहू रेत माफिया के कार्य में लिप्त था। वह एक ढाबा चलाता था और उसकी आड़ में गैर कानूनी गतिविधियां भी चलाता था। 

पुलिस ने कही ये बात

पुलिस ने इस बाबत कहा कि अमित साहू के नौकर से पूछताछ की गई। अमित ने 3 अगस्त को अपने नौकर को कार धोने के लिए कहा था। इस दौरान नौकर को कार में खून के धब्बे दिखे व कुछ कपड़े मिले। लेकिन नौकर होने की वजह से वह अमित से कुछ पूछ नहीं पाया। इस हत्याकांड को अंजाम देने में अमित के दोस्त राजेश सिंह ने मदद की। बता दें कि सना की लाश 2 अगस्त को जबलपुर से संदिग्ध अवस्था में मिली थी। नागपुर के डीसीपी जोन 2 राहुल मदने ने बताया कि दोनों ने शादी की थी या नहीं, इस मामले की जांच की जा रही है। पुलिस उनके शादी के प्रमाण पत्र के सत्यता की भी जांच कर रही है। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss