36 C
New Delhi
Sunday, June 23, 2024

Subscribe

Latest Posts

अदानी-हिंडनबर्ग मामले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह


छवि स्रोत: ट्विटर
गृह मंत्री अमित शाह

नई दिल्ली: पिछले 20 दिनों से देश और दुनिया में उद्योगपति गौतम अडानी को लेकर खूब हल्ला मचा है। इस मुद्दे को लेकर अल्पसंख्यक समुदाय को लेकर सड़क तक सरकार की घोर निंदा है। अमेरिकी संस्थान हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने के बाद अडानी समूह को करोड़ों रुपयों का नुकसान हुआ है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को अपने भाषण के दौरान इसे लेकर सरकार पर कई तीखे प्रहार किए थे। अब इसे लेकर केंद्रीय गृह मंत्री शाह का बड़ा बयान आया है।

इस मुद्दे पर मेरा कुछ भी बोलना सही नहीं है – गृह मंत्री

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने मामले का संज्ञान लिया है। कैबिनेट सदस्य के रिश्तेदार इस समय इस मुद्दे पर मेरा कुछ बोलना सही नहीं होगा, लेकिन इसमें भाजपा के लिए कुछ छिपाने के लिए नहीं है और न ही किसी बात से डरने की जरूरत है। पिछली रात अडानी प्रकरण में राहुल गांधी के भाषण पर अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी के बयान को लेकर ईमानदार टीम को डाकिया होना चाहिए।

पीएफआई देश में धर्मांधता और कट्टरता बढ़ाने वाला संगठन- अमित शाह

अमित शाह ने कहा, “पीएफआई कैडर पर कई मामलों में कांग्रेस ने काम खत्म किया, जिसे कोर्ट ने रोका। हमने पीएफआई को लड़कियों पर प्रतिबंध लगाया। पीएफआई देश में धर्मांधता और कट्टरता बढ़ाने वाला संगठन था। आंतक का एक प्रकार से सामग्री। तैयार करने का काम वे लोग कर रहे थे। हमारी वोट सरकार बैंक की राजनीति से ऊपर उठे और PIF पर रोक लगा दी।”

दक्षिणपंथी लगभग समाप्त हो चुके हैं – गृहवाद मंत्री

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि बिहार और झारखंड में नक्सवादी उग्रवाद लगभग समाप्त हो गया है। मुझे विश्वास है कि छत्तीसगढ़ में भी कुछ ही समय में शांति बहाल करने में हम सफल होंगे। जम्मू-कश्मीर में भी आतंकवाद से संबंधित सभी प्रकार के आंकड़े सबसे अच्छी स्थिति में हैं।

शहरों के नाम बदलने के दस्तावेज का बचाव

बीजेपी को शहर के नाम बदलने को लेकर अक्सर आलोचना का सामना करना पड़ता है। इस विषय को लेकर गृह मंत्री शाह ने पार्टी और सरकार का पक्ष रखा है। उन्होंने कहा कि एक भी शहर ऐसा नहीं है जिसका पुराना नाम न हो और बदला है। इस पर बहुत सोच-विचार कर हमारी जातियाँ जजमेंट के लिए हैं और हर सरकार का ये विधायी अधिकार है।

नवीनतम भारत समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss