31.1 C
New Delhi
Sunday, July 21, 2024

Subscribe

Latest Posts

तेलंगाना में कांग्रेस को झटका, टिकटें नहीं मिलने पर पूर्व मंत्री ने छोड़ी पार्टी


छवि स्रोत: आईएएनएस
नागम जनार्दन रेड्डी ने छोड़ी कांग्रेस पार्टी

तेलंगाना विधानसभा चुनाव से चंद दिन पहले कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री नगम जनार्दन रेड्डी ने पार्टी छोड़ने के बाद मुलाकात नहीं की। उन्होंने अपना मत व्यक्त करते हुए कांग्रेस के फ़्रांसीसी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने उनके साथ अन्याय किया है। इस तथ्य के बावजूद कि शकायत नगरकुर्नूल में पार्टी मजबूत हुई थी, जहां पार्टी पिछले 30 वर्षों में कभी भी विधानसभा चुनाव नहीं जीत पाई थी।

“पार्टी समर्थकों को साथ लेकर चल रही है”

जनार्दन रेड्डी ने अपने पत्र में कहा, “यह बहुत पसंद है कि कांग्रेस जैसी राष्ट्रीय पार्टी अपने समर्थकों को शामिल कर रही है और खुद को गैर-जिम्मेदाराना तरीकों से संचालित कर रही है, इसलिए मैं कांग्रेस पार्टी से अलग हो रहा हूं।” उनकी तत्काल समाप्ति के बाद भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के नेता केटी रामाराव और टी. एशिश राव ने उनसे मुलाकात की और उन्हें बीआरके में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया। बैठक के बाद जनार्दन रेड्डी ने मीडिया से कहा कि वह नागा कर्नूल के भविष्य के लिए बी रिजर्व में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि वह नागा कुरनूल में बी रिजर्व उम्मीदवार मैरी जनार्दन रेड्डी के साथ काम करेंगी।

दिल्ली चैंबर पुलिस ने एड्री की जारी की, 2 दिन तक इन स्कूटर से लॉन्च की सलाह

के. रेड्डी को बनाया गया प्रतियोगी राजेश

टिकट काटने के बाद जनार्दन रेड्डी कांग्रेस नेतृत्व से नाराज थे। उन्होंने तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति (टीपीसीसी) के अध्यक्ष ए. रेवंत रेड्डी पर ज़ोरदार ढांचागत सार था। कांग्रेस ने इस सीट से के. रेड्डी को अपना उम्मीदवार बनाया है राजेश ने। बी.ई.अन्वेषकों के. दामोदर रेड्डी के बेटे राजेश हाल ही में कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए थे। नागम जनार्दन रेड्डी ने लंबे समय तक पार्टी की सेवा करते हुए लोगों की अनदेखी करते हुए दलबदलुओं को टिकटें दीं और पार्टी के फैसले की आलोचना की थी।

जुर्म का बदला…बीटेक रेडियो से मोबाइल लूटने के लिए ऑटो से छीनकर मारने वाला सपोर्ट में होल; वीडियो

नागाकर्नूल से छह बार विधायक रह चुके हैं

नागाकर्नूल से छह बार विधायक रह रहे हैं। जनार्दन रेड्डी ने आरोप लगाया कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व को कमजोर करके राज्य में कांग्रेस पार्टी को नष्ट किया जा रहा है। नागम जनार्दन रेड्डी 2018 चुनाव से पहले तीन देशम पार्टी (टीडीपी) पूर्ण कांग्रेस में शामिल हुईं। पूर्व मंत्री लगातार पांच बार नागार्जुन को चुना गया। 2018 के चुनाव में बी.आर.जे. उम्मीदवार मैरी जनार्दन रेड्डी हार गईं।


-आईएएनएस साजिश के साथ

कतर में सज़ा-ए-मौत देने का क्या तरीका है?



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss