30.1 C
New Delhi
Thursday, June 20, 2024

Subscribe

Latest Posts

फैक्ट चेक: पाकिस्तान में बम विस्फोट का पुराना वीडियो फिलिस्तीन के नाम पर वायरल


छवि स्रोत: स्क्रीनशॉट
तथ्य की जाँच।

जब भी दुनिया में कोई बड़ी घटना होती है तो उससे जुड़े गाने और डाउनलोड न्यूज लेवल बड़े पैमाने पर सोशल मीडिया पर वायरल होते रहते हैं। इन फ़ोकस न्यूज़ को इवेंट से संबंधित लुक वाले वीडियो के साथ ही वायरल किया जाता है जिससे आम लोग आसानी से इसका शिकार हो सकें। बचपन की सच्ची कहानियों से आपको सावधान करने के लिए हम बताते हैं इंडिया टीवी फैक्ट चेक। फ्रक्स न्यूज का ताजा मामला इजराइल-हमास युद्ध से जुड़ा है, जिसमें पाकिस्तान में एक बम विस्फोट को फिलिस्तीन के बारे में बताया जा रहा है। आइए जानते हैं इस वायरल दावे की सच्चाई।

पूरा मामला क्या है?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो जबरदस्त वायरल हो रहा है। इस वीडियो में लोगों की एक भीड़ हाथ में झंडे लेकर रैली निकाल रही है। अचानक यहां एक बम विस्फोट होता है और लोगों के चिथड़े उड़ जाते हैं। लोगों के बीच भगदड़ मच जाती है। वीडियो वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो फिलिस्तीन में हुए हादसे का है।

तथ्य की जाँच।

छवि स्रोत: स्क्रीनशॉट

तथ्य की जाँच।

क्या है दावा?
रैली में बम विस्फोट का वीडियो वायरल होने का दावा किया जा रहा है कि यह घटना फिलिस्तीन के समर्थन में रैली में हुई है। सोशल मीडिया एक्स प्लेटफॉर्म पर इस वीडियो को शेयर किया गया आदित्य हिंदू नाम के संगीतकार ने लिखा है- ‘फ्लेस्टिन के समर्थन में राय, बम फटा और 72 हूरो के पास के लिए कई निकेल।’ कई अन्य लोगों ने भी इस वीडियो को री-पोस्ट और शेयर किया है।

इंडिया टीवी ने की पड़ताल
सोशल मीडिया पर ये धमाका का वीडियो काफी वायरल हो रहा था. ऐसे में हमने इस वीडियो में विवेक करने की थानी दी है। हमने सबसे पहले वीडियो में गौरवान्वित किया कि कहीं भी फिलीस्तीन से संबंधित कोई झंडा नहीं दिख रहा है। हमने फिर इस वीडियो के कीफ्रेम्स को रिवर्स सर्च किया। फिर हमें वकार हसन 29 सितंबर का एक ट्वीट – नाम के पर्यटक। इस ओके वीडियो को शेयर करते हुए लिखा गया है कि पाकिस्तान के ब्लूचिस्तान में मिलादुन्नबी के जुलूस में बम विस्फोट से 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। फिर हमने गूगल ओपन सर्च पर इस घटना से जुड़े कीवर्ड्स को सर्च किया। हमें पाकिस्तान केउचिस्तान में स्थित अल-फलाह मस्जिद के पास ईद मिलाद-उल-नबी के जुलूस के मौके पर हुए ब्लास्ट से जुड़ी कई खबरें मिलीं और विदेशी बल के नेताओं के ट्वीट मिले।

तथ्य की जाँच।

छवि स्रोत: स्क्रीनशॉट

तथ्य की जाँच।

फैक्ट चेक में ये खुलासा
इंडिया टीवी फैक्ट चेक में सामने आया कि वायरल हो रहे बम ब्लास्ट के वीडियो में फिलिस्तीन के समर्थन में रैली से कोई लेना देना नहीं है। यह घटना पाकिस्तान के बलूचिस्तान में सितंबर महीने में हुई थी। लोगों को ऐसी कहावतें कहानियों से सावधान रहने की सलाह दी जाती है।

ये भी पढ़ें- फैक्ट चेक: ममता बनर्जी ने नहीं हटवाए दुर्गा मां की मूर्ति से निकाले गए हथियार, तस्वीर का दावा निकला

ये भी पढ़ें- फैक्ट चेक: अक्षय कुमार ने नहीं कहा ‘आई लव फिलिस्तीन’, एडिटेड है वायरल वीडियो



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss