21.8 C
New Delhi
Tuesday, February 27, 2024

Subscribe

Latest Posts

Explainer: क्या है महादेव एप स्कैम, जिसमें रणबीर कपूर को मिला समन


Image Source : ANI
महादेव एप घोटाला।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अभिनेता रणबीर कपूर को समन भेजा है। पूरा मामला है महादेव एप स्कैम से जुड़ा हुआ। रणबीर कपूरे के अलावा भी कई बड़े फिल्मी सितारे इस मामले में ED की रडार पर आ गए हैं। लेकिन लोगों के मन में इस मुद्दे को लेकर कई सवाल हैं। जैसे ये महादेव एप स्कैम आखिर है क्या? कैसे ED ने इस मामले का खुलासा किया? कैसे बॉलीवुड के इतने बड़े सितारों के नाम भी इस मामले से जुड़ गए हैं? आइए जानते हैं इन सभी सवालों के जवाब हमारे इस एक्सप्लेनर के माध्यम से। 

सांकेतिक फोटो।

Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE

सांकेतिक फोटो।

क्या है महादेव एप का खेल?


इंटरनेट के दौर में गेमिंग का खुमार लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। महादेव एप ने लोगों के इसी खुमार का फायदा उठाया। महादेव ऑनलाइन बुक बेटिंग ऐप कई वेबसाइट व एप का एक सिंडिकेट है। बेटिंग ऐप को 70:30 के लाभ अनुपात पर फ्रेंचाइजी देकर चलाया जाता है। इसका हेडक्वार्टर UAE में स्थित है। इस एप्लिकेशन के कॉल सेंटर श्रीलंका, नेपाल में भी हैं। इस कंपनी पर अवैध सट्टेबाजी वेबसाइटों को नए उपयोगकर्ता दिलाने, बेनामी बैंक खातों व पैसों की हेराफेरी करने का आरोप है। हाल ही में ED ने सितंबर महीने में महादेव ऑनलाइन लॉटरी एप मामले की जांच करते हुए कोलकाता, भोपाल, मुंबई समेत देश के विभिन्न शहरों में छापेमारी कर के 417 करोड़ की संपत्ति फ्रीज और जब्त की थी और कई लोगों को गिरफ्तार किया था। 

सांकेतिक फोटो।

Image Source : ANI

सांकेतिक फोटो।

5000 करोड़ का घोटाला

दरअसल, महादेव एप पर सट्टे का खेल 500 रुपये से शुरू होता था। अगर कस्टमर हार भी जाए तो कंपनी उसे जीता हुआ दिखाकर उसे छोटा अमाउंट दे देती थी। धीरे-धीरे लोगों को इसका लत लगती है और लोग अपने बड़े पैसे इसमें बार जाते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, इस एप के छत्तीसगढ़ समेत अन्य राज्यों में 30 सेंटर थे। बीते एक साल में इस एप पर करीब 10 लाख लोगों ने सट्टा लगाया। बीते एक साल में एप के जरिए 5000 करोड़ रुपये का लेनदेन किया गया है। इस रकम की लेन-देन के लिए गरीब लोगों के बैंक अकाउंट का भी इस्तेमाल हुआ। हवाला के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग की गई। कंपनी की कमाई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एप की मदद से हर रोज करीब 200 करोड़ रुपये की कमाई की जा रही थी। 

महादेव एप घोटाला।

Image Source : ANI

महादेव एप घोटाला।

ये स्टार्स भी रडार में

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक, ED की जांच के दायरे में अभिनेता रणबीर कपूर के अलावा आतिफ असलम, राहत फतेह अली खान, अली अजगर, विशाल डडलानी, टाइगर श्रॉफ, नेहा कक्कर, एली अव्राम, भारती सिंह, सनी लियोनी, भाग्य श्री, पुलकित, कीर्ति खरबंदा, नुसरत भरूचा और कृष्णा अभिषेक का नाम आने की भी खबर निकल कर सामने आई है। सूत्रों की मानें तो  100 से ज्यादा सोशल मीडिया इन्फ्ल्यूएंसर भी संदेह के घेरे में हैं जिन्होंने इस एप को प्रमोट किया और प्रोसिड ऑ क्राइम के पैसे कैश में लिए।

रणबीर कपूर व सौरभ चंद्राकर।

Image Source : ANI

रणबीर कपूर व सौरभ चंद्राकर।

ऐसे फंस गए स्टार्स

महादेव ऑनलाइन बुक बेटिंग ऐप के मालिक छत्तीसगढ़ के सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल हैं। सौरभ चंद्राकर की शादी इसी साल यूएई में हुई थी जिसमें उसने करीब 200 करोड़ रुपये नकद खर्च किए थे। इस शादी में रणबीर कपूर समेत कई स्टार्स भी शामिल हुए थे। शादी समारोह में परफॉर्म करने के लिए कई मशहूर हस्तियों को भी बुलाया गया था। आरोप है कि इन सभी को कैश में भुगतान किया गया। सूत्रों के मुताबिक, रणबीर कपूर इस एप्लिकेशन को प्रमोट कर रहे थे, इस वजह से उन्हें बहुत पैसे भी मिले, जो की कैश में थे जिसे की प्रोसिड ऑफ क्राइम बताया जा रहा है। खबर है कि कुछ स्पोर्ट स्टार भी इस एप्लिकेशन को प्रमोट कर चुके हैं। 

सांकेतिक फोटो।

Image Source : REPRESENTATIVE IMAGE

सांकेतिक फोटो।

पाकिस्तान से भी कनेक्शन

महादेव एप का हवाला सिंडिकेट सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनियाभर में पैसे का पैसे का लेन-देन करता था। कुछ ही दिनों पहले ED ने इस एप के पाकिस्तान कनेक्शन का भी खुलासा किया था। आरोप है कि एप की मदद से पाकिस्तान के हवाला ऑपरेटरों से भी करोड़ों का लेनदेन किया जाता था। ED इस बात की भी जांच कर रही है कि आरोपी सौरभ चंद्राकर कहीं ISI से तो नहीं जुड़ा। 

 



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss