27.9 C
New Delhi
Wednesday, April 17, 2024

Subscribe

Latest Posts

कुछ राज्यों में ब्राइट होंगे क्लाउड, बिहार-यूपी में ज्यादा गर्मी, जानिए आज कैसा रहेगा सीजन?


छवि स्रोत: फाइल फोटो
आज कैसा रहेगा सीजन का मिजाज

मौसम अद्यतन: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अगले चार दिनों में, पूर्वी भारत के बड़े हिस्से, विशेष रूप से बिहार और बंगाल में हीटवेव की स्थिति जारी रहने की संभावना है, विभाग ने इन राज्यों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इन राज्यों में तापमान 12 अप्रैल से 40-44 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना जताई गई है। वहीं आईएमडी ने 18 से 20 अप्रैल के बीच उत्तर-पश्चिम भारत, दिल्ली-एन महाराष्ट्र सहित कुछ राज्यों में तेज हवा के साथ बारिश की भविष्यवाणी की है। वहीं, पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के कुछ राज्यों में आज भारी बारिश की संभावना है।

इन राज्यों में बारिश होगी

मौसम विभाग ने इसके पीछे की वजहों से कहा है कि एक पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र प्रभावित हो रहा है और चक्रीय परिसंचरण उत्तरी पाकिस्तान और पंजाब के निचले क्षोभमंडलीय स्तर पर बना हुआ है। विभाग ने कहा कि “हम 4 दिनों के लिए उत्तर-पश्चिम भारत में बारिश की भी उम्मीद कर रहे हैं। धीरे-धीरे क्लॉड नाटक पंजाब और फिर हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश से शुरू होगा। बुधवार से हिमालय क्षेत्र में भारी वर्षा की संभावना है क्योंकि ट्रफ काफी गहरा है और इस क्षेत्र को अरब सागर से बहुत अधिक गति मिल रही है। बारिश के बाद अधिकतम तापमान में मामूली गिरावट आएगी।’

इन राज्यों में अगले चार दिनों तक हीटवेव का अलर्ट

अगले चार दिनों तक पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ हिस्सों में लू की स्थिति बने रहने की संभावना है। इसे देखते हुए इन राज्यों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है और लोगों को गर्मी से बचने के लिए परेशानी उठाने की बात कही गई है। आईएमडी के वैज्ञानिक नरेश कुमार ने कहा कि, इन राज्यों में अगले पांच दिनों के बाद गरज के साथ बारिश की स्थिति देखी जा सकती है और फिर हीटवेव की स्थिति कम हो सकती है।

मौसम विभाग ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में, उत्तर भारत के कई हिस्सों में, पूर्व और उत्तर पूर्व भारत के कुछ हिस्सों में और मध्य प्रदेश और क्षेत्रीय क्षेत्रों के कुछ हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से 3-5 डिग्री एशियाई अधिक होगा। गंगीय पश्चिम बंगाल के अलग-अलग हिस्सों में पिछले एक हफ्ते से लू की स्थिति बनी है; तटीय क्षेत्र में पिछले पांच दिन, बिहार में चार दिन और पंजाब और हरियाणा में दो दिन से लू चल रही है।

21 अप्रैल से पहले इन राज्यों में राहत नहीं मिलेगी

आईएमडी ने कहा कि अगले दो दिनों के दौरान उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, ओडिशा और झारखंड के अलग-अलग हिस्सों में भी लू की स्थिति की संभावना है। हालांकि, अगले तीन दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत में अधिकतम तापमान में धीरे-धीरे 2-4 डिग्री सेलियन की गिरावट और उसके बाद 2-3 डिग्री सेलियन की वृद्धि होने की संभावना है। अगले दो दिनों के दौरान मध्य भारत में अधिकतम तापमान में कोई विशेष बदलाव नहीं होने की संभावना है। इसके बाद अगले तीन दिनों में 2-3 डिग्री सेलियन की गिरावट दर्ज की जा सकती है।

समुद्री गर्मी वेव शिकारी के अनुसार, केरल और कर्नाटक के साथ-साथ दक्षिण अरब सागर और बांग्लादेश के साथ ही पश्चिम बंगाल के बंगाल की खाड़ी के ऊपर मजबूत समुद्री गर्म लहरें दिखाई दे रही हैं।

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (जलवायु और मौसम विज्ञान) महेश पलावत ने कहा, “हम 21 अप्रैल से पहले पूर्वी भारत, विशेष रूप से पश्चिम बंगाल और बिहार में किसी भी तूफान की सक्रियता या तापमान में कमी की उम्मीद नहीं कर रहे हैं। उत्तर- पश्चिमी क्षेत्रों में तब तक गर्म हवाएं चलेंगी।

ये भी पढ़ें:

‘मोदीजी पूरे देश की संख्या हैं, मेरी भी सुन ली’, कश्मीर की बच्ची ‘सीरत’ की अपील पर बन रहा उसका स्कूल, दिल को छू लेगी ये कहानी

दिल्ली में बिजली प्राधिकरण को 6 साल में मिली सब्सिडी कैसे, सरकार विशेष ‘ऑडिट’ देगी

नवीनतम भारत समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss