भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग से जुड़े मामले में क्रिकेटर अंकित चव्हाण को बड़ी राहत दी है। ऐंहट्वाण साल 2013 में अब तक खत्म हो चुका है।

एं एंट्री चव्हाण को जानकारी दी है कि बाजार में बैन को कम से सात है। कार्यालय के समय पूरा होने के बाद आपके परिवर्तन में परिवर्तन हुआ। लगा

चह्वाण ने कहा है कि यह एक बड़ी राहत है। अंकित चौहान ने कहा, ” मेरे साथ बड़ा बच्चा पैदा हुआ है। मैं उम्मीद कर सकता हूं। मैं और मुंबई का मौसम का मौसम.”

पुनरावर्तक चुकी

चह्वाणों का पुन: उत्पन्न होने से उसे दोबारा बनाए रखने में मदद मिलती है। स्पिन गेंदबाज ने कहा, ” बैन हटने के बाद मैं ग्राउंड पर वापस जाऊंगा और खेलूंगा। मुंबई की टीम में पुनरावर्तक बना रहता है। मेरे काम की विशेषता है और इसके पुनरावर्तक के लिए मैं हर प्रोबेशन करता हूँ।”

अंकित चव्हाण को श्रीसंत और अजित चंदीला के साथ फिक्सिंग का लाइटिंग था। ये खिलाड़ी 2013 में राजस्थान रॉयल्स की ओर से खतरे खेल रहे थे। इंटरनेट ने इंटरनेट पर इंटरनेट लगाया है। बै

श्रीसंत सॉल्ट का बैन खत्म होने के बाद पुन: लागू होने वाले क्रिकेट के परिसर पर लागू होता है। चव्हाणण जैसा दिखने वाला व्यक्ति वैसा ही होता है।

IND Vs SL: इंटरनेट पर वायरल होने से पहली कठिन कठिनाइयां शुरू, BCCI ने ठुकराया

.