35.1 C
New Delhi
Thursday, May 30, 2024

Subscribe

Latest Posts

संबंध सुधारने के इरादे से 3 साल बाद ऑस्ट्रेलियाई प्रतिनिधिमंडल जाएगा चीन, जानें क्यों


Image Source : AP
प्रतीकात्मक फोटो (फ्लैग)

ऑस्ट्रेलियाई संघीय मंत्रियों का एक प्रतिनिधिमंडल अगले सप्ताह बीजिंग में एक उच्च स्तरीय वार्ता में भाग लेगा जिसे दोनों देशों के वर्षों से संबंधों रहे ठंडेपन के बाद कुछ सुधार के संकेत के रूप में देखा जा रहा है। प्रतिनिधिमंडल, सात सिंतबर को होने वाले सम्मेलन में व्यापार और निवेश, लोगों से लोगों के संबंध और क्षेत्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर चर्चा करेगा। आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री पेनी वोंग ने शनिवार को कहा,”वर्ष 2020 के बाद से पहली बार वार्ता हो रही है और यह द्विपक्षीय संबंध बढ़ाने तथा चीन के साथ हमारे संबंधों को स्थिर करने की दिशा में एक और कदम का प्रतिनिधित्व करता है।

” बीजिंग में चीन के स्टेट काउंसिलर और विदेश मंत्री वांग यी के साथ दिसंबर में हुई बैठक के परिणामों के अनुसार वार्ता का दौर शुरू हुआ है। वोंग ने कहा,”यह दोनों देशों के प्रतिनिधियों को हमारे दृष्टिकोणों पर चर्चा करने का अवसर प्रदान करता है जिसमें साझा हित के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के विकल्पों पर भी चर्चा का अवसर भी मिलेगा।” ऑस्ट्रेलियाई जौ पर चीन के तीन साल पुराने शुल्क को हटाने के एक महीने बाद बातचीत का दौर फिर से शुरू हो गया है जो ऑस्ट्रेलिया में सरकार बदलने के बाद द्विपक्षीय व्यापार संबंधों में सुधार का एक मजबूत संकेत है।

चीन ने लगाई थी आस्ट्रेलिया पर व्यापार बाधा

चीन द्वारा लगाई गई व्यापार बाधाओं को व्यापक रूप से पिछली ऑस्ट्रेलियाई सरकार द्वारा घरेलू राजनीति में गुप्त विदेशी हस्तक्षेप पर प्रतिबंध लगाने वाले कानूनों को पारित करने, चीनी स्वामित्व वाली दूरसंचार कंपनी हुआवेई को सुरक्षा कारणों से ऑस्ट्रेलिया के 5 जी नेटवर्क को शुरू करने से रोकने और कोविड-19 पर स्वतंत्र जांच के आह्वान के लिए दी गई सजा के रूप में देखा गया। पूर्व श्रम व्यापार मंत्री क्रेग एमर्सन इस कार्यक्रम की सह-अध्यक्षता करेंगे, जिसमें पूर्व गठबंधन के विदेश मंत्री जूली बिशप एक प्रतिनिधि और सत्र नेतृत्व के रूप में भाग लेंगी। चीन के पूर्व विदेश मंत्री और चीनी पीपुल्स इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेन अफेयर्स के वर्तमान माननीय अध्यक्ष ली झाओक्सिंग चीनी प्रतिनिधिमंडल की सह-अध्यक्षता और नेतृत्व करेंगे।  (एपी)

यह भी पढ़ें

पाकिस्तान में तबाही मचाने के लिए ISIS ने भेजी महिला आतंकवादियों की फौज, 5 को किया गया गिरफ्तार

चीन भारत को मानता है अमेरिका से भी बड़ा और खतरनाक दुश्मन, रूस कराना चाहता है दोनों देशों में दोस्ती

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss