35.1 C
New Delhi
Tuesday, April 16, 2024

Subscribe

Latest Posts

अजीत डोभाल का रूस दौरा पाकिस्तान में मची खलबली, पढ़िए क्या है पूरा मामला?


छवि स्रोत: फ़ाइल
अजीत डोभाल की रूस यात्रा पाकिस्तान में मची है खलबली

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अफगानिस्तान के मुद्दों पर सुरक्षा सलाहकारों की बैठक में भाग लेने के लिए रूस गए। इस रूस का दौरा और आखिरकार मिलने की पाकिस्तान में काफी चर्चा हो रही है। पाकिस्तान जो अफगानिस्तान के मुद्दों पर खुद को एक बड़ा हितधारक साझा करता है, इस बैठक से नदारद रहा। इस बारे में बयान का कहना है कि भारत बड़ी सावधानी से पाकिस्तान को अफगानिस्तान के मामले में अलग-थलग यानी अलग-अलग कर रहा है।

रूस ने हाल ही में राजधानी मॉस्को में अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता बहाल करने के लिए पांचवीं बैठक बुलाई। इस बैठक में चीन, भारत, ईरान, ताजिकिस्तान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, उज्बेकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान सहित कई देशों को बुलाया गया था। भारत के एनएसए डोभाल ने बैठक में कहा कि अफगानिस्तान के लोगों की मानवीय सुंदरता को पूरा करना भारत की पहली प्राथमिकता है।

डोभाल ने कहा कि अफगानिस्तान मुश्किल दौर से गुजर रहा है और जरूरत की इस घड़ी में भारत अफगानिस्तान के लोगों का साथ कभी नहीं छोड़ेगा। उन्होंने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान को 40,000 अटक टन व्हीट, 60 टन दिवाइयां और पांच लाख टीके टीके भेजकर उसकी मदद की है।

भारत ने अपने इस साल के बजट में भी अफगानिस्तान के लिए विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। भारत अफगानिस्तान में विकास कार्यों के लिए 2.5 करोड़ डॉलर देगा। अफगानिस्तान में भारत के इस रूख से पाकिस्तान को बड़ा नुकसान होगा।

अलग हो रहा पाकिस्तान, जानें क्या बोले विशेषज्ञ

पाकिस्तान के राजनीतिक संबंधों का कहना है कि ‘अफगानिस्तान पर बात करने के लिए क्षेत्रीय देशों के एनएसए की यह पांचवीं बैठक थी। पाकिस्तान को इस बैठक में कितनी खूबसूरती से निकाल दिया गया। पाकिस्तान के उच्चाधिकार सूत्रों का यह भी कहना है कि पाकिस्तान में रूस में एनएसए की बैठक में इसलिए भाग नहीं लिया क्योंकि उसके पास कोई एनएसए ही नहीं है। वहीं, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मुमताज जहरा बलूच ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘ इस बैठक में भाग नहीं लेने का निर्णय इसलिए लिया गया क्योंकि हम समझते हैं कि पाकिस्तान अन्य अन्य मंचों से अफगानिस्तान में शांति बहाली के लिए बेहतर योगदान दे सकता है।

नवीनतम विश्व समाचार



Latest Posts

Subscribe

Don't Miss